14 से 20 जून तक आयोजित होगा बजट सत्र, विपक्ष से उठाए गए मुद्दों पर जवाब देने को तैयार भाजपा सरकार

भाजपा विधायक दल की बैठक सोमवार को 14 जून से शुरू हो रहे विधानसभा के बजट सत्र के साथ होगी।

14 से 20 जून तक आयोजित होगा बजट सत्र,  विपक्ष से उठाए गए मुद्दों पर जवाब देने को तैयार भाजपा सरकार
भाजपा विधायक दल की बैठक सोमवार को 14 जून से शुरू हो रहे विधानसभा के बजट सत्र के साथ होगी। बैठक में सदन के दौरान फ्लोर मैनेजमेंट और विपक्ष की ओर से उठाए गए मुद्दों का जवाब देने की रणनीति तैयार की जाएगी। वहीं, कांग्रेस ने कल से शुरू हो रहे सत्र की रणनीति बनाने के लिए सोमवार को पार्टी विधायक दल की बैठक बुलायी है। विधानसभा सत्र के लिए सोमवार को शाम सात बजे सीएम आवास के मुख्य सेवक सदन में भाजपा विधायक दल की बैठक बुलाई गई है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में पार्टी के सभी मंत्रियों और विधायकों को आमंत्रित किया गया है। 

सरकार ने 14 से 20 जून तक बजट सत्र आयोजित करने का फैसला किया है। सरकार सत्र के पहले ही दिन बजट पेश करेगी। सदन में विपक्ष की ओर से उठाए गए मुद्दों पर पूरी तैयारी के साथ जवाब देने की रणनीति पर सत्ता पक्ष की ओर से चर्चा होगी। संसदीय कार्य मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि भाजपा विधायक दल की बैठक सोमवार को मुख्यमंत्री आवास पर होगी, जिसमें 14 जून से होने वाले बजट सत्र पर चर्चा होगी. उन्होंने बताया कि पार्टी के सभी विधायकों को बैठक में बुलाया गया है. उधर, सोमवार को ही स्पीकर रितु खंडूरी भूषण की अध्यक्षता में बिजनेस एडवाइजरी कमेटी और पार्टी की बैठक होगी। कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में सत्र और विधायी कार्य के संचालन का एजेंडा तैयार किया जाएगा। 

वहीं, कांग्रेस ने कल से शुरू हो रहे सत्र की रणनीति बनाने के लिए सोमवार को पार्टी विधायक दल की बैठक बुलायी है. विपक्ष सदन में सरकार को घेरने के लिए मुद्दों को धार देने की रणनीति में लगा हुआ है वहीं सत्ता पक्ष भी सरकार की उपलब्धियों को मजबूती से रखने की तैयारी में है. चारधाम यात्रा के चलते सरकार ने देहरादून में 14 से 20 जून तक बजट सत्र बुलाने का फैसला किया है। सत्र के पहले ही दिन सरकार वित्तीय वर्ष 2022-23 का बजट पेश करेगी। विधानसभा अध्यक्ष रितु खंडूरी भूषण की अध्यक्षता में सोमवार को ही विधानसभा भवन में व्यावसायिक सलाहकार समिति और पार्टी की बैठक बुलाई गई है. सदन की कार्यवाही का एजेंडा कार्य मंत्रणा समिति में तय किया जाएगा। अब तक विधानसभा को सत्र के लिए विधायकों से 530 से ज्यादा सवाल मिल चुके हैं। विभिन्न विभागों की ओर से विधायकों के सवालों के जवाब तैयार कर विधानसभा को भेजे गए हैं।