बीटेक का छात्र छापता था नकली नोटे, दो लाख 47 हजार हुए बरामद

पढाई में होशियार बीटेक का छात्र छापता था 500 की नकली नोटे

बीटेक का छात्र छापता था नकली नोटे, दो लाख 47 हजार हुए बरामद

रूड़की की गंगनहर कोतवाली पुलिस ने नकली नोटों का कारोबार करने वाले तीन युवक़ों को गिरफ्तार किया है जिनमे एक बीटेक का छात्र भी है जो पढ़ाई में काफी होशियार है लेकिन नशे की लत ने उसे नकली नोट के कारोबार में धकेल दिया। सीओ रूड़की  विवेक कुमार ने बताया कि पकड़े गए युवक रात्रि के समय पेट्रोल पंप, रेहडी ठेली व भीड़भाड़ वाले बाजारों में 200, 500 व 2000 कर नोटों को चलाते थे, ताकि किसी को कोई शक न हो। 

500 की नकली नोटे बरामद 

पुलिस ने एक सूचना पर उक्त तीनों अभियुक्तों को रंगे हाथ गिरफ्तार करते हुए उनके कब्जे से दो लाख 47 हजार 500 रुपये की नकली नोटों की नकदी बरामद की है। आईबी की टीम अब तीनो आरोपियों से पूछताछ करेगी। सिविल लाइन कोतवाली में घटना का अनावरण करते हुए सीओ रुड़की विवेक कुमार ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि पकड़े गए अभियुक्त प्रिंटर से नकली नोटों की प्रिंटिंग कर उन्हें बाजार में चलाया करते थे। उनके पास यह कागज कहां से आता था इसके अभी जांच चल रही है। 

करते थे नशा 

वही आरोपी चेकिंग के दौरान पकड़े गए वही उक्त अभियुक्तों की करतूत का पर्दाफाश हुआ और पुलिस टीम ने अधिकारियों के निर्देश पर उन्हें नकली नोट चलाते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उक्त अभियुक्तों ने बताया कि वह अपने परिजनों से जेब खर्च के नाम पर पैसे लेते थे और उस पैसे से नशे की पूर्ति करते थे। जब वह नशे की लत में चूर हो गए और परिजनों ने भी उनको पैसा देने से इंकार कर दिया तो उन्होंने नकली नोट बनाने की योजना बनाई और इसके बाद उन्होंने एक एक प्रिंटर लेकर नकली नोटों का व्यापार शुरू कर दिया। उक्त युवक भीड़भाड़ वाले बाजारों में उक्त नोटों को चलाते थे और अपने रोजमर्रा के नशे को पूरा करते थे।