मसूरी में हुआ रक्तदान शिविर का आयोजन, लोगों ने किया बढ़चढ़कर रक्तदान

रोटरी क्लब मसूरी के सहयोग से रमा देवी इंटर कॉलेज ओल्ड बयास के मसूरी में कुलदीप राज साहनी की स्मृति में रक्तदान शिविर का राधा कृष्ण मंदिर के सभागार में आयोजित किया गया

मसूरी में हुआ रक्तदान शिविर का आयोजन, लोगों ने किया बढ़चढ़कर रक्तदान

रोटरी क्लब मसूरी के सहयोग से रमा देवी इंटर कॉलेज ओल्ड बयास के मसूरी में कुलदीप राज साहनी की स्मृति में रक्तदान शिविर का राधा कृष्ण मंदिर के सभागार में आयोजित किया गया जिसमें लोगों ने बढ़चढ़ कर प्रतिभाग किया। उत्तराखंड होटल एंड रेस्टोरेंट के प्रदेश अध्यक्ष संदीप साहनी ने कहा कि रक्तदान ने मानवता की एकता को उजागर करने के साथ मानव बंधन को मजबूत करता है उन्होंने रक्त दान जैसे नेक काम के लिए निस्वार्थ रूप से रक्तदान करने के लिए सभी रक्तदाताओं को धन्यवाद दिया। 


रक्त दान से होता है सेहत में सुधार 

उन्होंने रोटरी क्लब द्वारा स्वास्थ्य, शिक्षा, स्वच्छता आदि जैसे कई क्षेत्रों में किए गए कार्यों की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि शिविर उनके पिता की स्मृति में आयोजित किया जाता है और यह लगातार जारी रहेगा ताकि लोगों को जरूरत पड़ने पर मदद मिल सके। उन्होंने कहा कि रक्तदान जीवन में सामान्य दान है। इंद्रेष अस्पताल के डाक्टरों ने बताया कि लोगों द्वारा रक्त दान करने से दिल की सेहत में सुधार, दिल की बीमारियों और स्ट्रोक के खतरे को कम माना जाता है। खून में ज्यादा आयरन की मात्रा होने से दिल को खतरा हो सकता है। 


इमरजेंसी स्थिति में करना चाहिए रक्तदान 

डॉक्टरों का मानना है की अगर नियमित रूप से रक्तदान करने से आयरन की मात्रा नियंत्रित रहती है जो दिल की सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। वही कई बार मरीजों के शरीर में खून की मात्रा इतनी कम हो जाती है की मरीज को या किसी अन्य व्यक्ति खून चढ़ाने की नौबत आ जाती है। ऐसी ही इमरजेंसी स्थिति में खून की आपूर्ति के लिए लोगों को रक्तदान करने के लिए आगे आना चाहिए। इससे जरुरत मंद की मदद हो सकेगी। मसूरी रोटरी क्लब के अध्यक्ष अर्जुन कैन्तुरा ने कहा कि रोटरी क्लब लगातार सामाजिक हितों के लिए काम कर रही है। 

डोनर्स की 80-85 फीसदी तक कमी

मसूरी में रक्तदान शिविर का आयोजन कर लोगों को रक्तदान के लिये प्रेरित कर लोगो को समय-समय पर रक्तदान करने की अपील की गई है जिससे कि जरूरतमंद लोगों को रक्त उपलब्ध कराए जा सके। उन्होने कहा कि कोरोना के ऐसे हालात में ब्लड बैंकों में डोनर्स की 80-85 फीसदी तक कमी आ गई है,रक्तदान शिविर नहीं लगने से ब्लड कैंसर और दूसरी गंभीर बीमारियों के मरीजों के लिए खून की कमी आ रही है. ऐसी विषम परिस्थितियों को देखते हुए देश के युवाओं को आगे आये और लोगों के लिए रक्तदान कर जीवन बचाने का पुण्य काम किया। उन्होने कहा कि रक्त दान  की मुहिम को जारी रहेगी और रोटरी क्लब की कोशिश है कि कोरोना के ऐसे हालातों में हम किसी की जिंदगी बचाकर मरीजों की मदद कर सके।