ई-पास के विरोध में दो अक्टूबर को बंद रहेगा बद्रीनाथ बाजार

दो अक्टूबर को विरोध के चलते बद्रीनाथ बाजार बंद का एलान किया है वही बद्री संघर्ष समिति की ओर से पूरा बाजार बंद रखा जाएगा

ई-पास के विरोध में दो अक्टूबर को बंद रहेगा बद्रीनाथ बाजार

बद्रीनाथ चारधाम यात्रा पर  ई-पास की अनिवार्यता पर विरोध जारी है जिसके चलते दो अक्टूबर को विरोध के चलते बद्रीनाथ बाजार बंद का एलान किया है वही बद्री संघर्ष समिति की ओर से पूरा बाजार बंद रखा जाएगा। वही बीते शुक्रवार को 300 से अधिक यात्री पहुंचे जहाँ यात्रा सुचारु रूप से सुचारु रही। साथ शुक्रवार से बद्रीनाथ धाम के लिए हवाई यात्रा भी शुरू हो चुकी है। 

फर्जी ई-पास लेकर पहुंच रहे थे 

दरअसल इस विरोध उदेश्य है की यात्रा कोरोना नियमों के तहत शुरू की गई थी वही ई-पास अनिवार्यता के चलते सिमित संख्या में श्रद्धालु जा पा रहे है साथ ही कुछ ऐसे भी श्रद्धालु थे जो फर्जी ई-पास के जरिए यात्रा में शामिल हो रहे थे। लगभग दस अक्टूबर तक यात्रा समाप्त हो सकती है संघर्ष समिति के अध्यक्ष राजेश मेहता ने बताया की चार माह बाद यात्रा शुरू की गई लेकिन ई-पास की वजह से यात्रा के रंग को फीका कर दिया। इस अनिवार्यता से व्यापारियों के पेट पर लात पड़ी है।  

सरकार के खिलाफ करेगी आंदोलन 

ई-पास की अनिवार्यता के चलते श्रद्धालुओं की संख्या बेहद सिमित हो गई है वही आधे से ज्यादा श्रद्धालु रस्ते से वापस लौटा दिए जा रहे है व्यापारियों की मांग है की। ई-पास की अनिवार्यता को ख़त्म किया जाया। उन्होंने सरकार से मांग की कि ई-पास की व्यवस्था को समाप्त किया जाए। मांग पूरी नहीं हुई तो बदरीश संघर्ष समिति सरकार के खिलाफ फिर आंदोलन शुरू कर देगी। बैठक में विनोद नवानी, जगदंबा प्रसाद रेवानी,मनदीप भंडारी, विनोद डिमरी, बलदेव मेहता,  विपुल डिमरी, जगजीत मेहता, भानु प्रताप भंडारी, संगीता मेहता, आलोक मेहता,विनीत सैनी सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

दस अक्टूबर को बंद हो जाएगा हेमकुंड साहेब के कपाट 

हेमकुंड साहिब के कपाट शीतकाल के लिए 10 अक्तूबर को विधिविधान के साथ बंद कर दिए जाएंगे। कोविड के चलते इस साल हेमकुंड साहिब के कपाट चारधाम यात्रा के साथ 18 सितंबर को खुले थे। अभी तक यहां 3014 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं। हेमकुंड साहिब ट्रस्ट के उपाध्यक्ष नरेंद्रजीत सिंह बिंद्रा ने बताया कि 10 अक्तूबर को हेमकुंड साहिब के कपाट बंद कर दिए जाएंगे। उन्होंने इसी अवधि तक श्रद्धालुओं से यात्रा करने का आग्रह किया है। कहा कि मौसम को देखते हुए ट्रस्ट ने यह निर्णय लिया है। 

चारधाम यात्रा में ई-पास के चलते यात्रियों की संख्या सीमित 

https://www.youtube.com/watch?v=U5R-KtrUDC0